February 25, 2024
Nasbandi Meaning In Hindi

नसबंदी का मतलब क्या होता है ? – Nasbandi Meaning In Hindi

Nasbandi Meaning In Hindi :- भारत में बढ़ती जनसंख्या एक चिंताजनक विषय है और इसकी रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा परिवार नियोजन कार्यक्रम आयोजित किये जाते है, जिसमें पुरुषों को नसबंदी करने के लिए कहा जाता है।

किन्तु कभी कभी लोग इस शब्द का सही अर्थ नहीं समझ पाते है। इसलिए आज हम इस आर्टिकल में उन्हें Nasbandi meaning in hindi की सटीक जानकारी बताने जा रहे है।

जिसमें आपको नसबंदी क्या है ? किस प्रकार की जाती है ? इसके क्या फायदे है ? समन्धित सवालो के बारे मे बताया जायेगा तो आइए इस जानकारी को पूरा पढ़ते है।


Nasbandi meaning in hindi

नसबंदी जिसे अंग्रेजी में वासेक्टोमी (Vasectomy ) और हिंदी में इसे “बंध्याकरण “ भी कहा जाता है यह दो प्रकार की होती है।

1 – पुरुष नसबंदी

इस प्रक्रिया में पुरुषों की शुक्रवाहक नलिका (नस ) को बंद कर दिया जाता है, ताकि शुक्राणु वीर्य में न जा सके। यह क्रिया होने के बाद पुरुष अपनी महिला साथी को गर्भवती नहीं कर सकता है। पुरुष नसबंदी प्रक्रिया काफी आसान और सुरक्षित मानी जाती है। इसे करने से पूर्व शरीर को निश्चेतक अवस्था में कर दिया जाता है।

2 – महिला नसबंदी

महिला नसबंदी भी पुरुष नसबंदी की तरह स्थाई प्रक्रिया है जिसके बाद महिला गर्भ धारण नहीं कर पाती है इस प्रक्रिया में महिलाओं के पेट पर एक छेद किया जाता है जिससे कि फैलोपियन ट्यूब तक पहुंचा जा सके, फिर इस ट्यूब को बंद कर दिया जाता है ताकि मैथुन क्रिया के बाद शुक्राणु अंडाशय तक न पहुंच सके। महिला नसबंदी प्रक्रिया निश्चेतक ( एनेस्थेसिया ) देकर शुरू की जाती है।


नसबंदी क्यों आवश्यक है ?

भारत में जनसंख्या एक बहुत ही गंभीर समस्या बनती जा रही है जिसकी वजह से महंगाई, शिक्षा, रोजगार तथा अन्य क्षेत्रों पर सीधा- सीधा असर पड़ता है और ऐसे में एक आम इंसान को अपने परिवार के प्रत्येक सदस्य की बेहतर शिक्षा और भोजन का प्रबंध कर पाना काफी मुश्किल रहता है।

इसीलिए परिवार नियोजन टीम द्वारा छोटा परिवार रखने की सलाह दी जाती है इस कार्यक्रम में पुरुषों और महिलाओं को परिवार नियोजित रखने के लिए कई उपायों की जानकारी दी जाती है।


नसबंदी के फायदे

Nasbandi ke Fayde कुछ इस प्रकार है।

  • नसबंदी परिवार नियोजन के लिए स्थाई और सबसे अच्छा उपाय माना गया है।
  • इस प्रक्रिया के बाद आप व्यक्ति अपने वैवाहिक जीवन का सुख बिना किसी चिंता के ले सकते है।
  • महिलाओं के बार बार गर्भ धारण करने से उन्हें कई प्रकार कि परेशानियां होती है नसबंदी के दवारा इस परेशानी से बचा जा सकता है।

नसबंदी किस प्रकार करवाएं

नसबंदी करवाने से पहले आपको इन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

  • यह एक स्थाई गर्भ नियंत्रण प्रक्रिया है जिसके बाद संतान उत्पत्ति नहीं किया जा सकता है इसलिए पति पत्नी को आपसी सहमति बना लेनी चाहिए।
  • दोनों की आपसी सहमति के बाद यह निश्चय कर लेना चाहिए कि पति या पत्नी में किसे Nasbandi process को अपनाना है।
  • इस प्रक्रिया को लेने से पूर्व पहले एक अच्छे सर्जन डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।
  • नसबंदी से पूर्व आपको कुछ ब्लड टेस्ट करवाने होंगे जिनकी रिपोर्ट सामान्य आने पर डॉक्टर आपको नसबंदी करवाने की डेट देंगे।
  • जिस दिन आपका यह ओपरेशन होना है उस दिन आपको खाने में कुछ हल्का भोजन जैसे- दलिया, खिचड़ी, हलवा, सूप आदि ताकि ओपरेशन के बाद आपको बार बार शौच के लिए न उठना पड़े।
  • महिला तथा पुरुष नसबंदी होने में मात्र 20 – 30 मिनट का समय लगता है जिसके बाद आपको 24 -48 घंटे आराम करने के लिए बोला जाता है।
  • Nasbandi के 2 दिन बाद आप अपने सभी दैनिक कार्य पहले की तरह कर सकते है।

नसबंदी के बाद सावधानियां

इस प्रक्रिया के बाद डॉक्टरों द्वारा महिला और पुरुषो को कुछ सावधानियां बताई जाती है जो कि इस प्रकार है

  • इस ओपरेशन के दौरान व्यक्ति को निश्चेतक अर्थात एनेस्थिसिया दिया जाता है जिसमे आपको हलकी ठंड या कपकपी झनझनाहट का अनुभव हो सकता है, इसलिए घबरायें नहीं।
  • ओपरेशन के बाद आप डॉक्टरों द्वारा बताई गयी दवाओं को समय से सेवन करे ताकि आप जल्दी रिकवर हो सके।
  • नसबंदी के बाद आपको हल्का बुखार आ सकता है यह एक सामान्य लक्षण है घबराने की बात नहीं है किन्तु अधिक तेज बुखार आने पर अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते है।
  • Nasbandi karne ke bad आपको 2 – 3 दिनों तक सम्भोग क्रिया करने से रोका जाता है।
  • पुरुषो को नसबंदी के कुछ दिन बाद तक टाइट या सपोर्टर जैसे कैसे कपडें पहनने चाहिए।
  • लगभग 15 दिनों तक भारी वजन उठाने से बचे तथा साइकिल या ऐसा कोई वाहन न चलाए जिसमें आपको जोर लगाना पड़े।
  • ओपरेशन के बाद बीड़ी या सिगरेट आदि धूम्रपान का सेवन न करे।

नसबंदी में कुल खर्च

यदि आप इस प्रक्रिया को किसी निजी अस्पताल में करवाते है तो लगभग 40000 से 50000 रूपए का खर्चा आ सकता है जबकि कई राज्यों में सरकारी अस्पतालों में यह सुविधा बिल्कुल निःशुल्क है।


नसबंदी के अलावा परिवार नियोजन के दूसरे उपाय

Nasbandi परिवार नियोजन का स्थाई उपाय है जिसे करने के बाद भविष्य में संतान सुख से वांछित होना पड़ता है। इसलिए आप चाहे तो परिवार नियोजन के अस्थायी तरीको का भी इस्तेमाल कर सकते है।

इसमें आप गर्भनिरोधक गोलियाँ, जेली, निरोध, डायग्राम, गर्भनिरोधक इंजेक्शन आदि का इस्तेमाल कर सकते है। इन सभी तरीकों का इस्तेमाल करके को कुछ समय के लिए गर्भ धारण करने से रोका जा सकता है।


भारत में नसबंदी से जुड़ा काला इतिहास

वर्ष 1970 के दशक में परिवार नियोजन को लेकर एक मुहीम चलाई गयी जिसमें जनसंख्या नियंत्रण करने के लिए पुरुष नसबंदी पर काफी बल दिया था। उस समय की मौजूदा सरकार ने प्रत्येक अधेड़ पुरुषो के लिए इसे अनिवार्य कर रखा था और सरकारी विभाग के कर्मचारियों को यह आदेश दिया गया था कि वे 2 – 3 पुरूषो की नसबंदी जरूर करवाए अन्यथा उन्हें सरकारी सुविधाओं से वांछित कर दिया जायेगा।

इस भय से प्रत्येक कर्मचारी लोगो को जबरदस्ती नसबंदी करने के लिए दबाव बनाने लगे। सन 1975 की यह स्थिति काफी भयावह होने लगी थी। पुरुष समाज के लोग बाहर आना जाना बंद कर चुके थे।

समाज में कई प्रकार की भ्रांतियाँ फैला चुकी थी, जिसके फलस्वरूप आज भी लोग उस दशक को नसबंदी का काला इतिहास के रूप में जानते है।


FAQ’S :

प्रश्न 1 – Nasbandi meaning in hindi में बतायें ?

उत्तर-  नसबंदी परिवार नियोजन का सबसे आसान और सुरक्षित तरीका माना जाता है, इसे अंग्रेजी में वासेक्टोमी (Vasectomy ) और हिंदी में इसे “बंध्याकरण “ के नाम से जाना जाता है।

प्रश्न 2नसबंदी कितने प्रकार की होती है ?

उत्तर - नसबंदी दो प्रकार की होती है। 1:- पुरुष नसबंदी, 2:- महिला नसबंदी

प्रश्न 3 पुरुष नसबंदी किस प्रकार की जाती है ?

उत्तर - इस नसबंदी में पुरुषों के अंडकोष में हल्का से चीरा लगाकर शुक्रवाहिका नलिका को ब्लॉक अर्थात बन 
किया जाता है, ताकि शुक्राणु वीर्य में न जा सके।

प्रश्न 4 –  महिला नसबंदी किस प्रकार की जाती है ?

उत्तर - इस नसबंदी में महिलाओं के उदार (पेट) पर एक छेद किया जाता है, जिसके दवारा फैलोपियन ट्यूब तक 
पहुंचा जा सके, इसके बाद इस ट्यूब को ब्लॉक कर दिया जाता है ताकि शुक्राणु अंडाशय तक न पहुंच पाएं ।

प्रश्न 5नसबंदी का काला इतिहास का क्या अर्थ है ?

उत्तर - 1970 के दशक में पुरुषों को जबरदस्ती नसबंदी करने के लिए तैयार किया जाता था, जिससे समाज में एक 
भय का माहौल बनने लगा इसलिए इसे नसबंदी का काला इतिहास नाम दिया गया।

निष्कर्ष :-

इस आर्टिकल में आपने बेहद ही आसान भाषा में Nasbandi meaning in hindi की जानकारी हासिल की जिसमे आपको परिवार नियोजन के उपायों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की गयी।

इसके साथ ही आपने नसबंदी के बाद सावधानियों और नसबंदी के काले इतिहास से जुडी जानकारी को प्राप्त किया, यह जानकारी आपके लिए काफी मददगार साबित हुई होगी और ऐसी ही उपयोगी जानकारी हम आगे भी आपके लिए लाते रहेंगे।


Read Also :-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *